PM मोदी ने ‘भीम’ एप किया लॉन्च, अब बिना इंटरनेट अंगूठा लगाकर होगी पेमेंट!

by Wikileaks4India Posted on 30 views 0 comments
PM Narendra Modi Announce the lucky draw of two schemes

डिजिटल पेमेंट को बढ़ावा देने के लिए नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को नया मोबाइल ऐप भीम लॉन्च कर दिया। पीएम मोदी ने कहा, ”सरकार ऐसी टेक्नोलॉजी लेकर आ रही है, जिसके जरिए आप बिना इंटरनेट के भी पेमेंट कर सकेंगे। अंगूठा जो कभी अनपढ़ होने की निशानी था, वह डिजिटल पेमेंट की ताकत बनकर उभरेगा।

आपको बता दें कि भीम यूपीआई बेस्ड ऐप है। आधार इनेबल्ड ऐप नए साल में आने वाला है। पीएम मोदी शुक्रवार को दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम में डिजि-धन मेला में पहुंचे। इस मौके पर उन्होंने डिजिटल पेमेंट को बढ़ावा देने वाले लोगों और कलेक्टरों को सम्मानित किया। डिजि धन योजना के विनर्स का एलान किया।

modi222-30-1483096169.jpg

पीएम मोदी ने और क्या कहा

-पीएम मोदी ने कहा, ”दो हफ्ते के बाद जब ये व्यवस्था शुरू होगी, तब ये भीम ऐप दुनिया के लिए सबसे बड़ा अजूबा होगा।

”देश में आधार कार्ड 100 करोड़ से ज्यादा लोगों को मिल चुका है। 12-15 साल से छोटी आयु वालों को आधार देने का काम चल रहा है। बड़ी उम्र वालों में लगभग सबको आधार नंबर मिल गया है।”

-”ये होने के बाद दुनिया के दूसरे जो देश हैं वो गूगल गुरु के पास जाएंगे और पूछेंगे कि ये भीम है क्या? शुरुआत में तो उन्हें महाभारत वाला भीम दिखेगा। और गहरा जाने पर उन्हें दिखेगा कि भारत में भारत रत्न भीमराव अंबेडकर थे, जिनका मंत्र था बहुजन हिताय-बहुजन सुखाय। ये एप गरीब से गरीब आदमी को ताकतवर बनाएगा। ये अमीरों का नहीं, ये गरीबों का खजाना है।”

-”ये एप छोटे व्यापारियों, किसानों, गरीबों, आदिवासियों को ताकत देगा। इसलिए अंबेडकर के नाम पर ऐप बनाया, जिन्होंने दलितों, शोषितों और पिछड़ों के लिए अपना जीवन लगा दिया।”

– “ये देश को 2017 का नजराना है। 5 मिनट के भीतर-भीतर 5000 रुपए इन छोटे लोगों को लोन मिल जाएगा। इस काम को आगे बढ़ाने के लिए भीम जैसा प्लेटफॉर्म मिल रहा है।”

– “जिस दिन छोटे व्यापारी, गरीब, छोटे दुकानदार भीम का उपयोग करना शुरू करेंगे। जब उसे लोन लेना होगा, तो बैंक को मोबाइल दिखाएगा और कहेगा कि ये मेरा लेन-देन है।”

– “भीम आपके परिवार की आर्थिक महासत्ता बनने वाला है।”

पीएम मोदी ने विपक्ष पर साधा निशाना

पीएम मोदी ने विपक्ष पर निशाना साधते हुए कहा, कुछ लोग ऐसे होते हैं, जिनका जीवन निराशा के साथ शुरू होता है। उनके लिए कोई दवाई अभी नहीं है। निराशाओं में पड़े लोगों के लिए मेरे पास कोई औषधि नहीं है, लेकिन आशावादी लोगों के लिए मेरे पास हजारों अवसर हैं। तीन साल पहले की खबरें देखिए। तब पढ़ते थे कि कोयले में कितना गया, टूजी में कितना गया। आज की खबरें देखिए- आज कितना आया।”

अपने भाषण के दौरान पीएम मोदी ने कहा, एक नेता बोले, खोदा पहाड़ी और निकाली चुहिया। भाई! मुझे चुहिया ही निकालनी थी, वही तो सब खा जाती है चोरी-छिपे। ये चुहिया पकड़ने का ही काम है और ये काम तेज गति से चल रहा है।”

Author

Wikileaks4India

Leave a Reply

Your email address will not be published.