BJP विधायक की बेटी की लव मैरिज में नया मोड़, पुजारी ने बताया शादी हुई ही नहीं

News

बीजेपी विधायक राजेश मिश्रा की बेटी ने दलित युवक से प्रेम विवाह किया है. बेटी के मुताबिक, विधायक जी इस विवाह के सख्त खिलाफ हैं और इसके चलते उनकी जान को खतरा है.

लखनऊ. उत्तर प्रदेश के प्रयागराज में मंदिर के मुख्य पुजारी ने बताया कि उन्होंने बिठारी चैनपुर के भारतीय जनता पार्टी (BJP) विधायक की बेटी की शादी नहीं कराई है. बता दें कि, BJP विधायक की बेटी ने दलित लड़के से शादी करने के बाद एक वीडियो मैसेज के जरिए कहा था कि उसकी जान को खतरा है.

23 साल की साक्षी मिश्रा ने बुधवार को वीडियो में कहा था कि जाति के बाहर शादी करने के कारण उसे पिता राजेश मिश्रा, भाई और उसके समर्थकों से जान का खतरा है. इसके साथ ही साक्षी ने अपने और अपने पति अजितेश कुमार (29) के लिए पुलिस से सुरक्षा मांगी और प्रोटेक्शन के लिए इलाहाबाद हाई कोर्ट भी पहुंची.

साक्षी के मैरिज सर्टिफिकेट में जिस मंदिर में शादी करने की बात लिखी थी, उस मंदिर के महंत परशुराम दास ने कहा, “कोई भी शादी इस मंदिर में नहीं हुई है और मंदिर के नाम पर दंपति के लिए जारी किया गया प्रमाण पत्र जाली है.” साक्षी के मैरिज सर्टिफिकेट पर बेगम सराय के अति प्राचीन राम जानकी मंदिर का नाम लिखा था. सर्टिफिकेट सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है.

सर्टिफिकेट में उल्लेख किया गया है कि अजितेश कुमार और साक्षी का विवाह 4 जुलाई की शाम को राम जानकी मंदिर के परिसर में वैदिक हिंदू रीति-रिवाजों के अनुसार किया गया है. सर्टिफिकेट में दो गवाहों आयुष कुमार और सुधीर कुमार के हस्ताक्षर के साथ ही विष्णुपति शुक्ला के भी हस्ताक्षर हैं, जिनको शादी कराने वाला पुजारी बताया जा रहा है.

हालांकि, शुक्ला का कहना है कि उसने शादी करवाई है.

अपनी बेटी के वीडियो पर विवाद बढ़ने पर राजेश मिश्रा ने गुरुवार को एक बयान जारी कर साक्षी के आरोप को नकार दिया. उन्होंने कहा कि साक्षी एक बालिक है और उसे अपने फैसले लेने का अधिकार है. राजेश ने कहा, “मैंने ना किसी को धमकी दी, ना मैंने कुछ तलाश किया. बालिग लोग हैं, उनको निर्णय लेने का अधिकार है. मुझसे किसी को कोई खतरा नहीं है. ना मैंने किसी को फोन किया, ना मेरे परिवार के किसी आदमी ने किया. मैं जनता का काम निपटा रहा हूं. मेरी तरफ से किसी को कोई खतरा नहीं है.

उन्होंने कहा कि ‘कोई आदमी नहीं ढूंढ रहा है और ना ही मुझे इसके बारे में कोई जानकारी है. वह कहां है, मुझे इस बारे में कोई जानकारी नहीं है. यह बात गलत है कि कोई ढूंढ रहा है. कोई नहीं ढूंढ रहा है. मैं तो कहीं गया नहीं हूं. सबको पता है कि मैं यही हूं. मेरे लोग यहां हैं. भाई और भतीजे आए हैं.’

Leave a Reply