बीजेपी के सत्ता में आने के बाद हिरासत में आए अखिलेश यादव!

akhilesh yadav arrested in up

उत्तर प्रदेश के औरया में समाजवादी पार्टी के पूर्व विधायक प्रदीप यादव और सपा कार्यकर्ता की पिटाई का विरोध करने जा रहे अखिलेश यादव को हिरासत में ले लिया गया है। समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव का आरोप है कि उत्तर प्रदेश पुलिस ने मीडिया के कैमरे बंद करवाकर समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं की बेरहमी से पिटाई की है। वे इसी बात का विरोध करने के लिए एक्सप्रेस वे के रास्ते औरैया जा रहे थे, तभी रास्ते में उन्हें रोक लिया गया। पुलिस ने उन्हें भौराह कृषि विज्ञान केंद्र में रखा है। बुधवार को जिला पंचायत अध्यक्ष पद के चुनाव के नामांकन के दौरान पुलिस और समाजवादी पार्टी के समर्थकों के बीच तीखी झड़प हो गई थी। अखिलेश यादव ने आरोप लगाया है कि बीजेपी के गरौठा विधायक की गाड़ी के मुख्यालय में घुसने को लेकर बवाल हुआ है।  पुलिस ने आंसू गैस के गोले दागे। फायरिंग और लाठी चार्ज भी की है।

 

इस घटना के बाद बुधवार शाम को ही अखिलेश यादव ने लखनऊ में प्रेस कांफ्रेंस कर आरोप लगाया था पुलिस बीजेपी के इशारों पर काम कर रही है। अखिलेश ने आरोप लगाया कि पुलिस ने मीडिया के कैमरे बंद करवाकर सपा के पूर्व विधायक प्रदीप यादव की बेरहमी से पिटाई की। चोटिल सपा नेता प्रदीप यादव गुरुवार सुबह अखिलेश यादव से मिलने पहुंचे थे। इसके बाद अखिलेश यादव भी उनके साथ औरैया लौट रहे थे।

 

इस वजह से शुरू हुआ विवाद

औरैया जिला मुख्यालय ककोर में जिला पंचायत अध्यक्ष पद के लिए बीजेपी से दीपू सिंह और समाजवादी पार्टी से सुधीर यादव उर्फ कल्लू सिंह का नामांकन होना था। दीपू सिंह का नामांकन जैसे ही खत्म हुआ तो समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने पुलिस पर बीजेपी का साथ देने का आरोप लगाते हुए हंगामा शुरू कर दिया था। देखते ही देखते मामला इतना बिगढ़ गया कि उग्र समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ता पुलिस से भिड़ गए। आगजनी और पथराव के बीच पुलिस ने हालात नियंत्रित करने के लिए आंसू गैस के गोले दागे। एसपी संजीव त्यागी के अनुसार स्थिति तनावपूर्ण है, लेकिन काबू में है।

 

जिला पंचायत के नामंकन में सपा प्रत्याशी के समर्थन में औरैया पहुंचे इटावा के जिला पंचायत अध्यक्ष और समाजवादी पार्टी के पूर्व  जिलाध्यक्ष राजीव यादव और उनके समर्थकों को औरैया पुलिस ने रोका तीखी झड़प के बाद अंशुल यादव, राजीव यादव अपने समर्थकों के साथ ककोर मुख्यालय पहुंच गए है। इसके साथ ही कई सपा एमएलसी भी ककोर मुख्यालय पहुंचे है। स्थिति तनावपूर्ण हो गई। अंशुल यादव ने पुलिस पर बीजेपी के पक्ष में काम करने का आरोप गया।

 

नामांकन के दौरान पुलिस और समाजवादी पार्टी समर्थकों के बीच तीखी झड़प हुई है। बीजेपी के गरौठा विधायक की गाड़ी के ककोर मुख्यालय में घुसने को लेकर यह सब शुरू हुआ। सपा कार्यकर्ताओं ने पुलिस पर पथराव शुरू कर दिया। हालात को नियंत्रित करने के लिए पुलिस ने आंसू गैस के गोले दागे और हवाई फायरिंग करते हुए भीड़ को तितर बितर किया। बीच में हालात इतने खराब हो गए कि सपा कार्यकर्ताओं ने सड़क पर खड़े वाहनों में आग तक लगा दी। बवाल में सपा के पूर्व विधायक प्रदीप यादव को हंगामा करने पर पुलिस ने हिरासत में ले लिया।

 

जिला पंचायत अध्यक्ष चुनाव को लेकर जिले की सीमा पर सपा के एमएलसी राजपाल कश्यप व पुष्पराज जैन के अलावा कन्नौज सदर विधायक अनिल दोहरे सहित कई नेताओं को पुलिस ने हिरासत में लिया।

Tags:

  • Show Comments (0)

Your email address will not be published. Required fields are marked *

comment *

  • name *

  • email *

  • website *

You May Also Like

यूपी चुनाव: आखिरी चरण में अखिलेश ने ‘मोदी रोड शो’ पर चली आखिरी चाल, कहा…

आज यूपी विधानसभा चुनाव के प्रचार के लिए आखिरी दिन है। 8 मार्च को ...

DU ADMISSION : तीसरी कटऑफ जारी, अभी भी कुछ कॉलेजों में बचें हैं ADMISSION

दिल्ली विश्वविघालय की आज ग्रेजुएशन कोर्सेस की तीसरी कटऑफ भी जारी हो गई है। ...

आवश्यकता पड़ी तो राम मंदिर के लिए 1992 जैसा आंदोलन भी करेंगे: RSS

मुंबई से लगे उत्तन में चल रहे आरएसएस (RSS) के तीन दिवसीय शिविर के ...

अखिलेश यादव देने वाले है राहुल गांधी को बड़ा झटका, मोदी-शाह हुए खुश

समाजवादी पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में 2019 लोकसभा चुनाव को लेकर विस्तार ...

new changes in aadhar card

आधार कार्ड में बड़ा बदलाव अब नहीं देना होगा नंबर

हाल ही में आधार कार्ड की सुरक्षा को लेकर कई तरह के सवाल उठे ...