राहुल गांधी को सार्वजनिक जीवन से बाहर कर देना चाहिए- अरुण जेटली

News

केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली ने विपक्षी नेताओं पर जमकर हमला बोला है। बता दें कि अरुण जेटली ने उन सभी विपक्षी पार्टियों पर हमला बोला है। जो एयर स्ट्राइक पर सवाल उठाने और मसूद अजहर को देश से बाहर भेजने में अजीत डोभाल की भूमिका पर सवाल उठा रहे हैं। अरुण जेटली ने राहुल गांधी समेत कई विपक्षी नेताओं पर हमला बोलते हुए कहा कि ऐसे कम जानकार नेताओं को सार्वजनिक जीवन से बाहर कर देना चाहिए।

इस सवाल पर कि कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कहा है कि मौलाना मसूद अजहर अगर पाकिस्तान में है तो इसके लिए बीजेपी ही जिम्मेदार है, क्योंकि वाजपेयी जी की बीजेपी सरकार के दौरान अजीत डोभाल ही इन्हें कंधार तक छोड़ कर आए थे, अरुण जेटली ने कहा कि मैं कभी लिखूंगा कि कितना फेक ये फैला रहे हैं, ये किसी राजनीतिक दल के लिए दुर्भाग्य है। आप वंश के आधार पर चुनें या किसी और आधार पर, लेकिन ऐसे व्यक्ति को चुने जो कम से कम कुछ जानकारी तो रखता हो।

जेटली ने कहा कि राहुल गांधी को पता होना चाहिए कि जब यह घटना हुई तो उस समय डोभाल आईबी में थे। न तो वे विमान में गए, वे बैकग्राउंड में काम कर रहे थे, इस अभि‍यान में कई अधिकारी काम कर रहे थे। एक परंपरा है कि इंटेलीजेंस के लोगों को हम फेसलेस रखते हैं। ये नादान व्यक्ति इसको सार्वजनिक बहस का मसला बनाना चाहता है। जिन व्यक्तियों को इस प्रकार की बेसिक जानकारी नहीं है उसे पब्लिक लाइफ से गायब कर देना चाहिए। केंद्रीय मंत्री ने आगे कहा कि राहुल गांधी ने बार-बार कहा जो पैरा मिलिट्री के लोग हैं उन्हें शहीद का दर्जा दे दो, लेकिन सच यह है कि न तो सेना और न ही केंद्रीय सुरक्षाबलों को इस तरह का कोई दर्जा दिया जाता है।

Leave a Reply