Press "Enter" to skip to content

TRUE STORY : हर धोखा देने वाले के लिए है ये कहानी

Spread the love

हमारी शादी को 3 साल से ज्यादा का वक्त हो गया हैं और इससे पहले हम एक दूसरे को 10 सालों से डेट कर रहे थे। एक  रिश्ता जो 13 सालों से भी ज्यादा ईमानदारी की निशानी था लेकिन सिर्फ तब तक जब मुझे पता चला कि मेरा पति मुझे धोखा दे रहा है। वो मेरी जिंदगी का सबसे शॉकिंग और डरावना मंजर था। वो सब गुस्सा, विश्वास टूटना, ठुकराया हुआ और सब कुछ छोड़ देने जैसा अहसास था जो मेरी पूरे शरीर और मेरी आत्मा में दौड़ रहा था।

मुझे ये समझने में घंटे, दिन और हफ्ते लग गए इस बात पर यकीन करने के लिए कि जो शख्स मुझे लेकर हक जताता था, जो मुझे कभी खोना नहीं चाहता था वो किसी और के ही साथ है। ‘मेरी इस कहनी का हिरो जो चाहता था कि ये कहनी अधूरी ही रहे..

सब लोगों ने कहा कि, ऐसा नहीं हो सकता। ‘वो तुम्हें धोखा नहीं दे सकता, वो जरुर तुम्हारे साथ मजाक कर रहा होगा कि तुम्हें इस पर कैसा लगता है। उस पर भरोसा रखो, वो एक बहुत अच्छा इंसान है, वो इस तरह की हरकत नहीं कर सकता।’ मेरे शब्दों से ज्यादा सभी लोगों को मुझे लेकर उसकी ईमानदारी पर ज्यादा भरोसा था।

मैं खुद भी इन बातों पर यकीन करने लगी थी, कि वो मेरे साथ ऐसा नहीं कर सकता ये सिर्फ मेरा शक है। लेकिन एक दिन उसने कबूला कि उसकी जिंदगी में कोई और है जिसे वो खोना नहीं चाहता। उन शब्दों को सुनने से ही मैं बिल्कुल सुन्न पड़ गई। मेरा प्यार अंधा था और मैं चाह रही थी कि काश ये बेहरा भी होता।

मैं बहुत दुखी, इंसल्ट, गुस्सा और डरा हुआ सा महसूस कर रही थी। ‘स्टॉप’ मैंने खुद से कहा। धोखा देने वाले धोखा ही देते हैं। धोखा देना एक रास्ता होता है न कि गलती। ये बोरडम या असंतुष्टि वाली बात नहीं थी। मैं हर तरह से पर्फेक्ट थी एक गर्लफ्रेंड, एक वाइफ या फिर एक लाइफ पार्टनर के तौर पर। मैं ज्यादा सोचकर या अपनी कमी ढूंढ कर खुद को परेशान नहीं करना चाहती थी।

मेरे पति ने क्या किया इसके लिए मैं खुद को सजा नहीं देना चाहती थी। इमोशनली अपनी परेशानी से बहार निकलने के लिए मैंने काउसलिंग लिया, डांस क्लास, जिम, मेडिटेशन, योगा क्लासेस वो सब जो मैं कर सकती थी किया। अगले 4 महीनों बाद मुझे महसूस हुआ कि धोखा खाना भी आपको सीखाता है कि चीजें जरुर किसी वजह से ही होती हैं।

आखिर में आप भी कुछ नहीं कर सकते, मेरी किस्मत में कुछ और ही लिखा था। फिर मेरी कहानी के दूसरे हिरो की एंट्री होती है। वो मेरे साथ काम करने वाला एक कलिग था। वो भी शादीशुदा था पर उसकी शादी में भी प्रोबलम्स थी। किसी ऐसे का मिल जाना जिसके साथ आप अपना दुख दर्द बांट सकें, उससे जिंदगी दोबारा पर्फेक्ट हो जाती है।  

मैं किसी रिश्ते में कभी धोखा नहीं कर सकती थी पर मुझसे ऐसा करवाया गया। मेरे अंदर कुछ ऐसा कुछ था जो कह रहा था, ‘अगर वो ऐसा कर सकता है तो मैं क्यों नहीं कर सकती।’  हमारी जिंदगी में चल रहे हालातों, रिश्तों की उलझनों, एक दूसरे की तरफ अट्रैक्शन, किस्मत ये सभी चीजे बस हमें एक अफेयर तक ले गई। हम अपनी खुशी, मस्ती और एक दूसरे की शादी में दखल न देते हुए एक रिश्ते में आ गए।

ऐसा वक्त जब आप अपने शादी से अलग बाहर किसी से मिलते हैं और एकदम से उनके साथ एक कनेेक्शन जैसा फिल करने लगते हैं। ये एकदम से होने वाला किसी तरह का सेक्सुअल अट्रैक्शन नहीं था लेकिन आप उस शख्स की तरफ किसी तरह खींचे चले जाते हैं। आप उस शख्स के साथ इतना मशगूल हो जाते हैं कि आपको उस शख्स के साथ बहुत अच्छा फिल करने लगते हैं।

उसके साथ छोटी छोटी चीजों को लेकर प्यार करना जो मैं लिख भी नहीं सकती। एक कलीग से हम अच्छे दोस्त बन गए, जोक्स क्रैक करना, एक दूसरे को किसेस वाले इमोजी भेजने से लेकर असल में एक दूसरे को पूरे फील के साथ किस करना। जब वो मुझे किस करता तो मैं भी उसे ऐसा करने देती और खुद भी उसे किस करती। उसके हाथ मेरी गर्दन से होते हुए मेरी कमर पर जाते और मैं उसकी तरफ खींची चली जाती। मैं खुद से पीछे होती ‘हो गया, अब घर चलो।’ वो मुझे हंसते हुए शांति के साथ घर की तरफ ड्राइव करता।

‘ये प्यार, हवस या लत है पता नहीं। मैं सोचती हूं कि ये किस्मत को ही तय करने दूं, पर फिर मैं यहीं सोचती हूं कि धोखा खाना मेरे लिए सबसे अच्छी बात साबित हुई’। 

More from At A GlanceMore posts in At A Glance »
More from RomanceMore posts in Romance »

Be First to Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.