राहुल गांधी ने आतंकी मसूद अजहर को कहा ‘जी’, स्मृति ईरानी ने जमकर सुनाई खरी-खोटी

News

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी अपने बयानों को लेकर हमेशा से ही सुर्खियों में रहते हैं। राहुल गांधी आए दिन पीएम मोदी पर हमला बोलते हैं। लेकिन इस बार तो उन्होंने पीएम मोदी और एनएसए अजीत डोभाल पर हमला बोलते-बोलते देश के सबसे बड़े दुश्मन जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मसूद अजहर के लिए जी शब्द का इस्तेमाल कर दिया। लेकिन, राहुल गांधी के इस बयान के बाद बीजेपी नेताओं ने उन्हें निशाने पर ले लिया। सोशल मीडिया पर भी राहुल गांधी के इस बयान की खूब आलोचना हुई।

बता दें कि केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने राहुल गांधी पर वार करते हुए कहा कि राष्ट्र स्तब्ध है कि राहुल गांधी एक आतंकवादी मसूद अजहर को सम्मान के साथ संबोधित किया। शहीदों का परिवार और वो लोग जिन्होंने आतंकवादी हमलों में अपने रिश्तेदारों को खो दिया वो पूछना चाहते हैं कि एक आतंकवादी के लिए इतना सम्मान क्यों? एक आतंकवादी का सम्मान करते हुए वह सेना प्रमुख को ‘गुंडा’ क्यों कहता है?

केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने ट्वीट करते हुए लिखा कि राहुल गांधी और पाकिस्तान के बीच कॉमन बात क्या है। ये दोनों आतंकवादियों से प्रेम करते हैं। बीजेपी के ट्विटर हैंडल पर राहुल गांधी के वीडियो को ट्वीट कर लिखा गया है, ‘देश के 44 वीर जवानों की शहादत के लिए जिम्मेदार आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के सरगना के लिए राहुल गांधी के मन में इतना सम्मान।’

उल्लेखनीय है कि इससे पहले कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने 2011 में ओसामा बिना लादेन के लिए ‘ओसामा जी’ शब्द का इस्तेमाल किया था। इतना ही नहीं साल 2013 में दिग्विजय सिंह ने आतंकी संगठन ‘जमात-उद-दावा’ के मुखिया हाफिज सईद को ‘साहब’ कहा था। उस वक्त भी उनकी खूब आलोचना हुआ थी। वहीं, साल 2018 में केंद्रीय मंत्री रविशंकर ने लश्कर-ए-तैयबा के आतंकी हाफिज को ‘हाफिज जी’ कहा था।

Leave a Reply