PM मोदी को ‘चौकीदार’ बोलते-बोलते खुद ‘सिपाही’ बन गईं प्रियंका गांधी

Election, News

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी जब भी मोदी पर निशाना साधते हैं तो वो पीएम मोदी को चीख-चीख कर ‘चौकीदार चोर है’ बोलते हैं। लेकिन, बीजेपी ने इसी को मुद्दा बनाते हुए एक नया कैंपेन शुरु किया है। प्रधानमंत्री के इस कैंपेन में सिर्फ बीजेपी नेता ही नहीं बल्कि, आम लोग भी हिस्सा ले रहे हैं। प्रधानमंत्री मोदी को चौकीदार बोलते-बोलते अब कांग्रेस खुद सिपाही बन गई है। लेकिन अब हम बात करेंगे कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी की। जो खुद को सिपाही बोल रही हैं।

बता दें कि कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी चार दिन के यूपी दौरे पर हैं। यहां वो लोकसभा चुनावों को लेकर पार्टी के नेताओं के साथ बैठक करेंगी। लखनऊ में बैठक के बाद वो पूर्वांचल के दौरे पर जाएंगी। अपने इस दौरे के दौरान प्रियंका गांधी जनसभाएं और कई रैलियों को संबोधित करेंगी। बता दें कि प्रियंका गांधी ने वोटरों के नाम एक खत लिखा है। इस खत के जरिए प्रियंका ने लोगों से समर्थन मांगा है। खत में प्रियंका ने यूपी से पुराना नाता बताया है। इस चिट्ठी में प्रियंका ने खुद को पार्टी का सिपाही भी बताया है। साथ ही, यूपी की राजनीति बदलने की बात भी कही है। जिसके लिए प्रियंका गांधी ने लोगों से समर्थन मांगा है। चिट्ठी के सबसे ऊपर में उन्होंने युवाओं, महिलाओं और किसानों की परेशानी की बात की है।

आपको बता दें कि प्रियंका गांधी ने लिखा कि प्रदेश की राजनीति में एक ठहराव के कारण आज युवा, महिलाएं, किसान और मजदूर परेशानी में हैं। ये अपनी बात, अपनी पीड़ा साझा करना चाहते हैं। लेकिन, राजनीतिक गुणा-गणित के शोर में युवाओं, महिलाओं किसानों और मजदूरों की आवाज प्रदेश की नीतियों से पूरी तरह गायब है। उन्होंने आगे लिखा कि मैं इस धरती से आत्मिक रूप से जुड़ी हूं और मैं यह मानती हूं कि प्रदेश में किसी भी तरह के राजनीतिक परिवर्तन की शुरुआत आपकी पीड़ा को साझा किए बिना नहीं हो सकती। इसीलिए सीधा आपसे सच्चा संवाद करने के लिए मैं आपके द्वार पर पहुंच रही हूं।

चिट्ठी में प्रियंका गांधी ने गंगा का जिक्र करते हुए कहा कि मैं जल मार्ग, बस, ट्रेन, पदयात्रा सभी साधनों के जरिए आपसे संपर्क करूंगी। गंगा सच्चाई और समानता की प्रतीक हैं और हमारी गंगा-जमुनी संस्कृति का चिन्ह है। गंगाजी उत्तर प्रदेश का सहारा है। मैं गंगाजी का सहारा लेकर भी आपके बीच पहुंचूंगी।

Leave a Reply