‘पहरेदार पिया की’ पर जल्द कार्रवाई करेंगी स्मृति ईरानी, शो के प्रोड्यूसर ने दिया जवाब

by Renu Arya Posted on 50 views 0 comments
sony tv show again come in controversy show producer said its not promoting child marriage

सोनी टीवी पर आने वाले सिरीयल ‘पहरेदार पिया की’ अपने ऑन एयर होने के समय को लेकर विवादों में है। अब इस विवादित कहानी के मामले पर सूचना एवं प्रसारण मंत्री स्मृति ईरानी तुरंत कार्यवाही चाहती है। इस शो कहानी में 9 साल का बच्चा एक 18 साल की लड़की का पीछा करता है, उसके साथ प्यार में पड़ जाता है और फिर उससे शादी कर लेता है। इस शो पर बाल विवाह को बढ़ावा देने का आरोप लगाया जा रहा है। इस शो की उस समय और ज्यादा आलोचनाएं की गई जब इसमें शादी के बाद का सुहागरात वाला सीन को दिखाया गया था। ‘पहरेदार पिया की’ के खिलाफ दायर याचिका के खिलाफ स्मृति ईरानी ने हस्तक्षेप करते हुए इसके खिलाफ आपत्ति जताई है।




एचआरडी मिनिस्टर ने शो के खिलाफ दर्ज शिकायत को प्रसारण सामग्री शिकायत परिषद के पास भेज दिया है। ऑनलाइन शिकायत में कहा गया है कि 10 साल का छोटा बच्चा (पिया) खुद से दोगुनी उम्र की लड़की से प्यार करता है और उसका पीछा करता है। इसके अलावा प्राइम टाइम जो फैमिली टाइम है उसमें लड़की की मांग भरता हुआ नजर आता है। सोचने वाली बात है कि इससे इस शो को देखने वाले लोगों पर क्या असर पड़ेगा। हम इस सीरियल पर रोक चाहते हैं। हम नहीं चाहते कि हमारे बच्चों पर ऐसे सीरियलों का असर पड़े। अपने शो का बचाव करते हुए एक्टर्स और प्रोड्यूसर्स का कहना है कि यह शो बाल विवाह को बढ़ावा नहीं देता।




शो की लीड एक्ट्रेस तेजस्वी प्रकाश ने पूछा कि आखिर क्यों लोग ‘गेम ऑफ थ्रोन्स’ की पसंद करते हैं और ‘पहरेदार पिया की’ इतनी आलोचना? न्यूज एजेंसी आईएएनएस को दिए इंटरव्यू में एक्ट्रेस ने अपने शो और एचबीओ के हिट शो के बीच तुलना की थी। उन्होंने कहा था- ऐसा गेम ऑफ थ्रोन्स में होता है। लोग गेम ऑफ थ्रोन्स को पसंद करते हैं और जब यही चीज ‘पहरेदार पिया की’ में हो रहा है तो यह मुद्दा बन गया है।




दरअसल, एनजीओ ‘द जय हो फाउंडेशन’ ने कमिश्नर ऑफ पुलिस और यूनियन मिनिस्टर स्मृति ईरानी के पास अपनी शिकायत करते हुए शो को जल्द से जल्द बंद कराने की मांग भी की थी। साथ ही कहा कि इस तरह के सीरियल से बाल विवाह को बढ़ावा मिल रहा है, जो कि हमारे समाज के लिए ठीक नहीं है।

Comments

comments