लोकसभा चुनाव 2019: इस बार मतदान करना हुआ और भी आसान, पढ़िए कैसे?

Election, News

लोकसभा चुनाव 2019 को लेकर चुनाव आयोग ने सभी तैयारियां पूरी कर ली हैं। बता दें कि इस बार चुनाव आयोग ने मतदाता पर्ची से मतदान करने की सुविधा को खत्म कर दिया है। हांलाकि, मतदान बूथ पर सभी मतदाताओं को बीएलओ द्वारा मतदाता पर्ची तो दी जाएगी। लेकिन वह पर्ची मतदान करने के लिए मान्य नहीं होगी। मतदाताओं को चुनाव आयोग द्वारा निर्धारित दस्तावेज को मतदान केंद्र पर दिखाना अनिवार्य होगा।

बता दें कि मतदान करने के लिए इस बार मतदाता पहचान पत्र के साथ अन्य दस्तावेज और हेल्थ इंशोरेयंस कार्ड को भी शामिल किया है। यानी आयोग द्वारा आयोग मतदान करने के 12 दस्तावेजों के साथ इस बार हेल्थ इंशोरेंयस कार्ड को भी साथ मिलाया। इससे पहले हुए चुनाव में यह हेल्थ कार्ड शामिल नहीं था। आपको बता दें कि चुनाव आयोग ने अपनी वेबसाईट पर इसकी लिस्ट जारी की है। इसके बाद प्रदेश चुनाव आयोग वैध प्रमाण पत्रों की सूची भी जारी भी जारी करेगा। यह सूची हर पोलिंग बूथ पर भी उपलब्ध होगी। जहां पर मतदाओं को जानकारी मिलेगी की वह कौन सी आईडी प्रूफ देगा।

इन प्रमाण पत्रों को मिली मान्यता
आयोग से मिली जानकारी के अनुसार मतदान करने के लिए वोटर आई कार्ड, आधार कार्ड, मनरेगा जॉब कॉर्ड, पासपोर्ट, पासबुक बैंक, पोस्ट ऑफिस,ड्राईविंग लाईसेंस, सर्विस आई.डी. कार्ड, पैन कार्ड, पैंशन दस्तावेज, हैल्थ इंशोरेयंस और ऑफिशियल आई.डी. कार्ड को मान्यता मिली है।

गौरतलब है कि इससे पहले चुनाव में आयोग द्वारा मतदाओं की सुविधा के लिए आयोग मतदाता पर्ची भी जारी करता था और लोगों को बीएलओ द्वारा घर-घर जाकर पर्ची भी दी जाती थी। यहां तक पोलिंग बूथ के बाहर भी यह पर्ची दी जाती थी और पर्ची दिखाकर मतदान किए जाते थे। लेकिन अब मतदान करने के लिए पहचान पत्र और अन्य आईडी प्रूफ जरूरी होंगे।

Leave a Reply