10 फीसदी आरक्षण से खुश नहीं जाट, बीएसपी को समर्थन देने का किया एलान

Election, News

हाल ही में मोदी सरकार ने सवर्णों को आर्थिक तौर पर आरक्षण दिया है। लेकिन इससे जाट समुदाय खुश नहीं है। जाट समाज के नेता अखिल भारतीय जाट आरक्षण बचाओ महाआंदोलन के नेतृत्व में इकट्ठा हुए और मोदी सरकार पर धोखा देने का आरोप लगाया। साथ ही मायावती को समर्थन देकर बीजेपी को सत्ता से बेदखल करने की बात भी कही।

जाट नेता यशपाल मलिक ने कहा कि मोदी सरकार ने जो 10 फीसदी आरक्षण दिया है, उसके पीछे उनकी मंशा पूरी आरक्षण व्यवस्था को खत्म करना है। सरकार के इस फैसले से जाटों को कोई फायदा नहीं होने वाला है। मलिक ने आगे कहा, ‘हमारी मांग है कि जाट समुदाय को केंद्रीय स्तर पर ओबीसी कैटेगिरी में शामिल करना चाहिए, क्योंकि हम कई राज्यों में ओबीसी में शामिल हैं। जबकि मोदी सरकार ने जो 10 फीसदी आरक्षण दिया है उसके तहत तो हमें सवर्ण समुदाय के तहत आने वाली जातियों से मुकाबला करना होगा।’

यशपाल ने आगे कहा कि बीजेपी को हराना के लिए हमें अलग-अलग राज्यों में हर एक सीट के लिहाज से समर्थन की रूपरेखा तैयार करनी होगी। भारतीय जाट आरक्षण संघर्ष समिति उत्तर प्रदेश में पिछले महीने से जाट संदेश यात्रा चला रही है। इस यात्रा का मकसद ही बीजेपी को सत्ता से बेदखल करना है। इसी तरह से हरियाणा में भाई-चारा यात्रा चल रही है।

Leave a Reply