इस मामले में पीएम मोदी ने छोड़ा नेहरू और राजीव गांधी को पीछे…

स्वतंत्रता दिवस के मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लाल किले की प्राचीर से 5वीं बार तिरंगा फहराया है। इस किले पर सबसे ज्यादा बार तिरंगा फहराने वाले प्रधानमंत्रियों में नरेंद्र मोदी छठें नंबर पर आ गए है। जबकि पहले नंबर पर पहले प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू हैं, जिन्होंने 17 बार लाल किले से झंडा फहराया है। तो वहीं दूसरे नंबर पर इंदिरा गांधी हैं, जिन्होंने 16 बार झंडा फहराया। वहीं 10 मौकें मनमोहन सिंह को भी मिले हैं और अटल बिहारी वाजपेयी को 6 मौके मिले हैं। इसके अलावा राजीव गांधी, पी वी नरसिम्हा और मौजूदा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को 5-5 मौके मिले हैं।

2 प्रधानमंत्रियों को नहीं मिला मौका

गुलजारीलाल नंदा और चंद्रशेखर ये 2 हमारे देश के ऐशे प्रधआनमंत्री रहे हैं जिन्हें लाल किले से झंडा फहराने का मौका नहीं मिला। गुलजारीलाल नंदा को दो बार 13-13 दिन के लिए प्रधानमंत्री बनाया गया। पहली बार 27 मई से 9 जून 1964 और दूसरी बार 11 जनवरी से 24 जनवरी 1966 तक। तो वहीं, चंद्रशेखर 10 नवंबर 1990 से 21 जून 1991 तक प्रधानमंत्री रहे थे।

मोदी ने तोड़ा था जवाहरलाल नेहरू का रिकॉर्ड:

देश के पहले प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू ने लाल किले से साल 1947 में आजादी के बाद 72 मिनट का भाषण दिया था, जो कि साल 2015 तक का सबसे लंबा भाषण बना हुआ था। लेकिन पीएम मोदी ने उनका ये रिकॉर्ड तोड़ दिया। मनमोहन सिंह ने लाल किले से 10 बार देश को संबोधित किया। उनका भाषण दो बार ही 50 मिनट का रहा है। जबकि बाकी 8 बार भाषण का समय 32 से 45 मिनट के बीच में ही रहा। वहीं, अटल बिहारी वाजपेयी बीजेपी के पहले प्रधानमंत्री रहे, जिन्होंने स्वतंत्रता दिवस में 30 से 35 मिनट का भाषण दिया।

  • Show Comments (0)

Your email address will not be published. Required fields are marked *

comment *

  • name *

  • email *

  • website *

You May Also Like

90 रुपये पहुंचने वाला पेट्रोल इस जगह पर अब भी मिल रहा है काफी सस्ता…

पूरे देश में जहां पेट्रोल और डीजल की कीमतों में आग लगी हुई है। ...

सुप्रीम कोर्ट पर सवाल उठाने वाले जस्टिस रंजन गोगोई बने “सुप्रीम जज”…

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने देश के अगले मुख्य न्यायाधीश को चुन लिया है। जस्टिस ...

आपके बच्चे का आधार कार्ड इतने साल बाद हो जाएगा बेकार, जानें इससे जुड़ी सभी बातें

पांच साल से कम उम्र के बच्चों के लिए भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (यूआईडीएआई) बाल ...

हलाला के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट जाने वाली इस मुस्लिम महिला पर एसिड अटैक, देवर पर है आरोप…

हलाला का विरोध करने वाली बुलंदशहर की महिला शबनम रानी पर तेजाब से हमला ...

इस स्नेहालय में बालिकाओं को हर महीने दिया जाता था पीरियड रोकने का इंजेक्शन, और फिर…

मूक-बधिर और मंदबुद्धि बच्चों के लिए संचालित स्नेहालय आश्रम में क्या-क्या होता था? इसकी ...

हेलमेट पहनाकर महिला श्रद्धालुओं को सबरीमाला ले जा रही पुलिस, हंगामा जारी

केरल के प्रसिद्ध सबरीमाला मंदिर के द्वार खुले हुए तीन दिन हो चुके हैं। ...