अपने ही बयान में बुरे फंसे कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, राष्ट्रीय महिला आयोग ने जारी किया नोटिस

Politics

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी अपने बयानों को लेकर सुर्खियों में छाए रहते हैं, लेकिन अब हाल ही की बात करें तो उन्होंने ऐसा बयान दे दिया है जिसमें वो खुद ही घिरते हुए नजर आ रहे हैं। इस बार राहुल के रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण पर बयान देने पर राष्ट्रीय महिला आयोग (एनसीडबल्यू) ने उनके खिलाफ नोटिस जारी कर दिया है। जयपुर में रैली के दौरान बोलते हुए राहुल ने कहा था, ‘56 इंच का सीना रखने वाला चौकीदार भाग गया और एक महिला सीतारमण जी से कहा कि मेरा बचाव कीजिए। मैं अपना बचाव नहीं कर सकता, मेरा बचाव कीजिए।’

महिला आयोग की अध्यक्ष रेखा शर्मा ने कहा है, ‘हमने राहुल गांधी से स्पष्टीकरण मांगा है कि उन्होंने कल के ट्वीट में क्या और क्यों कहा था। यह बयान दुर्भाग्यपूर्ण, लैंगिक असमानता से भरा तथा महिलाओं के प्रति पूर्वाग्रह से ग्रसित था। इसी वजह से हमने उन्हें नोटिस भेजा है। उन्हें यह बताना होगा कि उनके कहने का क्या मतलब है जब वह एक महिला के बारे में बात कर रहे थे।’

आपको बता दें कि राहुल गांधी ने कल अपने ट्वीट में कहा था, ‘मोदी जी को पूर्ण सम्मान के साथ कहना चाहता हूं कि महिलाओं की इज्जत की शुरुआत घर से होती है। भागना बंद करें। एक आदमी के बनिए और मेरे सवालों का जवाब दीजिए। क्या वायु सेना और रक्षा मंत्रालय ने उस समय राफेल सौदे को लेकर आपत्ति जताई थी जब आपने मूल सौदे को दरकिनार कर दिया था? हां या ना?’

इस दौरान राहुल गांधी ने ‘महिला’ शब्द का इस्तेमाल करते हुए कहा, ‘ढाई घंटे तक महिला उनका बचाव नहीं कर पाई। मैंने सीधा सवाल किया- हां या ना में जवाब दीजिए लेकिन वह जवाब नहीं दे सकीं।’ कांग्रेस अध्यक्ष ने पीएम पर चर्चा से भागने का आरोप लगाया लेकिन इस बार रक्षा मंत्री का जिक्र नहीं किया। इसके कुछ घंटों बाद आगरा की एक जनसभा में मोदी ने कांग्रेस नेताओं पर देश की महिलाओं का अपमान करने का आरोप लगाया।

Leave a Reply