सबरीमाला में बेकाबू हुए हालात, पुलिस बलों के साथ महिला पत्रकारों पर किया प्रदर्शनकारियों ने हमला

सुप्रीम कोर्ट को देश में सबसे बड़ी अदालत के रूप में माना जाता है और उनके हर आदेश का पालन पूरा देश करता है। लेकिन आज एक ऐसी खबर केरला से सामने आई है जिसने सुप्रीम कोर्ट के फैसले को ही नहीं बल्कि महिलाओं की इज्जत को भी तार-तार करके रख दिया है। सुप्रीम कोर्ट के बड़े फैसले के बाद केरल के सबरीमाला मंदिर के दरवाजे आज सभी महिलाओं के लिए खुलने वाले थे।

हद तो तब पार हो गई थी जब सबरीमाला मंदिर में सभी महिलाओं के प्रवेश को लेकर सुप्रीम कोर्ट का फैसला आ गया है और उसके बाद भी लोग इसके विरोध जोरो से कर रहे है। इसके साथ ही साथ मंदिर द्वारा दरवाजे खोले जाने के विरोध में आत्महत्या करने की धमकी भी दे रहे है। मंदिर के दरवाजे सभी उम्र की महिलाओं के लिए खोले जाने पर वहां के लोग विरोध करते नजर आ रहे है। जिसको देखते हुए बुधवार को तनाव बढ़ने के आसार लगाए जा रहे है।

हालांकि, सरकार ने किसी भी अनहोनी को होने से रोकने के लिए ही सुरक्षा के कड़े इंतजाम पहले से किए हुए है। सबरीमाला के आस-पास हर एक चप्पे-चप्पे पर भारी संख्या में पुलिस बल की तैनाती की गई है। असल में मंगलवार को हालातों को सुलझाने के लिए त्रावणकोर देवस्वम बोर्ड (टीडीबी) के अंतिम प्रयास बेकार रहे जहां पंडालम शाही परिवार और अन्य पक्षकार इस मामले में बुलाई गयी बैठक को छोड़कर चले गये।

शीर्ष अदालत के आदेश का भी लोगों ने पालन नहीं किया और इस फैसले के खिलाफ पुनर्विचार याचिका दाखिल करने के मुद्दे पर बातचीत करने में बोर्ड की अनिच्छा से ये लोग निराश दिखे। इस बीच भगवान अयप्पा की सैकड़ों महिला श्रद्धालुओं ने मंदिर की ओर जाने वाले मार्ग पर जाकर उन महिलाओं को मंदिर से करीब 20 किलोमीटर पहले रोकने का प्रयास किया जिनकी आयु को देखकर उन्हें लगा कि उनकी आयु मासिर्क धर्म वाली हो सकती है। गौरतलब है कि सुप्रीम कोर्ट ने अपने फैसले में कहा था कि अब से सबरीमाला मंदिर में हर वर्ग की महिलाएं प्रवेश कर सकती हैं।

इसके साथ ही साथ महिला पत्रकारों पर हमले भी किए जा रहे है और विरोध इस हद तक बढ़ चुका है कि पुलिस प्रशासन पर भी लोगों द्वारा हमले होने लगे है।

महिला पत्रकार की गाड़ी को निशाना बनाते प्रदर्शनकारी

https://twitter.com/ANI/status/1052491981639708673

  • Show Comments (0)

Your email address will not be published. Required fields are marked *

comment *

  • name *

  • email *

  • website *

You May Also Like

महिला ने संबंध बनाने के लिए बनाया इतना दबाव कि पुरुष ने लगा ली फांसी…

महाराष्ट्र के परभनी जिले में एक 38 साल के शख्स के आत्महत्या करने का ...

सरकार के इस स्‍कूल में बच्‍चे बोलते हैं ‘भारत माता की जय’ तो मिलती है कड़ी सजा…

देश में भले ही समय-समय पर ‘भारत माता की जय बोलने’ को लेकर तमाम चर्चाएं ...

मोदी के राज्य से हो रहा यूपी और बिहार के लोगों का पलायन…

देश में व्यापार के लिए गुजरात काफी अहम राज्य है और इस समय पूरे ...

सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला, दिवाली पर अब सिर्फ इस समय ही चला सकेंगे पटाखे…

पूरे देश में पटाखे बनाने, बेचने और जलाने पर बैन को लेकर सुप्रीम कोर्ट ...

जेल में बंद है 2 साल का भाई, अब 2 दिन पहले पैदा हुई बहन भी रहेगी उसी के साथ…

आज कल हत्या कांड इतने हो रहे हैं जिसका कोई जवाब नहीं थोड़े समय ...