ये हैं दुनिया के पहले अरबपति बिटकॉइन के मालिक : विंकल्वस ट्विंस

by Renu Arya Posted on 54 views 0 comments
winklevoss-twins-the-first-verified-billionaire-bitcoin-holders

कैमरन और टायलर विंकल्वस जो कि विंकल्वस ट्विंस के नाम से जाने जाते हैं और इन जुड़वा भाइयों की पहचान की गई हैं कि ये पहले बिलियनर बिटकॉइन होल्डर्स है, मतलब इनके पास बिलियन की कीमत में बिटकॉइन मौजूद हैं। बिटकॉइन बनाने वाले सतोशी नाकामोतो के पास भी बिटकॉइन की टोटल सप्लाई का 5 पर्सेंट हिस्सा है। बहरहाल, यह सोचने वाली बात है कि नाकामोतो ने पहले 2009 में बिटकॉइन निकाला था और तब से अब तक 8 साल बाद नाकामोतो का बिटकॉइन कहीं नहीं गया या फिर वो कहीं खर्च नहीं किया हुआ।

सीट-AM, यूके के एक पब्लिकेशन ने बताया, कि 2013 में अनुमान था विंकल्वस ट्विंस के पास 100,000 बिटकॉइन मौजूद हैं जिसमें से $11 मिलियन को इनवेस्ट किया गया था। आज की कीमत के हिसाब से 11,200 डॉलर की कीमत के 100,000 बिटकॉइन 1.12 बिलियन डॉलर के बराबर है। पता चला है कि 2013 में विंकल्वस ट्विंस का 11 करोड़ डॉलर का निवेश होने के साथ 100,000 बिटकॉइन आयोजित होने का अनुमान है। आज क समय में 11,200 डॉलर वाले 100,000 बिटकॉइन की कीमत 1.12 अरब डॉलर के बराबर है।

बिटकॉइन मार्केट में विंकल्वस का योगदान

कई सालों के लिए, टायलर विंकल्वस ने बिटकॉइन को लेकर इसके स्टोर वैल्यू पर जोर दिया है। टेलीग्राफ को दिए एक इंटरव्यू में उन्होंने गौर किया कि बिटकॉइन सोने का ही एक बेहतर रुप है, जिसमें ऐप्पल के को-फाउंडर स्टीव वोज्नियाक सहित बाकि निवेशकों और विश्लेषकों के साथ समान तरह की भावना को साझा करना है। अरबपति निवेश वाली तकनीक टिम ड्रेपर की तरह, विंकल्वस ट्विंस ने बिटकॉइन बाजार में एक बेहतर बुनियादी ढांचे को बनाने में अपने संसाधनों और पूंजी का एक हिस्सा निवेश किया है, खासतौर से ट्रेडिशनल फाइनेंस मार्केट के इनवेस्टर्स के लिए।

विंकल्वस ट्विंस के सबसे कामयाब प्रोजेक्ट में से एक है जेमिनि, जो कि एक लिडिंग और अच्छे से रेग्युलेट होने वाला यूएस का बिटकॉइन एक्सचेंज है। साथ ही यह अपने जटिल और प्रोफेशनल बिजनेस की सर्विस के लिए यूएस मार्केट में जाना जाता है।

इस साल की शुरुआत में, जेमिनि ने एक अहम पार्टनरशिप के साथ शिकागो बोर्ड ऑप्शन एक्सचेंज  (CBOE) में प्रवेश किया, जो कि यूएस के सबसे बड़े एक्चेंज में साल के एनुअल बिजनेस वॉल्यूम का 1.27 बिलियन कॉन्ट्रैक्ट बिटकॉइन के लिए है। सीबीओई ने 4 दिसंबर को खुलासा किया कि उन्हें यूएस कॉमोडिटीस और फ्यूचर ट्रेडिंग कमिशन (CFTC) से यह अनुमति मिल गई है और आगे 10 दिसंबर को भी बिटकॉइन कारोबार में सक्षम रहेगा।

अगस्त में, टायलर विंकल्वस ने कहा था कि जेमिनि और उसके पार्टनर कोशिश कर रहे हैं कि यहां रिटेल इनवेस्टर्स के लिए नकद और बिजनेस प्लैटफॉर्म उपल्बध कराया जा सके। टायलर कहते हैं, ‘जेमिनि का खास मकसद क्रिप्टोकरेंसी इकोसिस्टम में सुरक्षा, अनुपालन और नियमित तौर पर जांच करते रहना है वो भी सीबीओई टीम के साथ काम करते हुए, हम कोशिश कर रहे हैं कि बिटकॉइन और अन्य क्रिप्टोकरेंसी बनाने में मदद हो सके जिससे रिटेल और इंस्टीट्यूशनल इनवेस्टर्स को आसानी रहे।’

 

Comments


COMMENTS

comments