Press "Enter" to skip to content

बड़ी खबर: सीएम योगी को क्यों और किसने जान से मारा…

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की शवयात्रा निकाली गई है। ये बात बीजेपी के लिए बहुत ही चौंका देने वाली है। बीजेपी के दिग्गज नेता के साथ एकदम से ऐसा हो जाना कभी किसी ने सोचा नहीं था। बीजेपी समेत पूरे देश के लिए ये बात बहुत ही चौंका देने वाली है।

 

आपको बता दें कि योगी आदित्यनाथ ने साल 2017 में मार्च में बीजेपी की यूपी में जीत के बाद मुख्यमंत्री पद की शपथ ली थी और आते ही योगी ने धराधर फैसलों की कतार लगा दी थी और इन फैसलों से जनता के अंदर उत्साह और रोष दोनों देखा गया था। लगातार 22 सालों तक गोरखपुर से लोकसभा चुन कर पहुचने वाले योगी आदित्यनाथ की छवि हमेशा से एक कट्टर हिंदूवादी नेता की थी।

बीजेपी ने हमेशा से योगी पर भरोसा दिखाया है और योगी उस पर खड़े भी उतरे है। लगातार 22 सालों तक सांसद बन कर रहे और उसके बाद यूपी के मुख्यमंत्री बनने के बाद भी उन्होंने जिस तरह से अपना काम किया है वो बहुत सराहनीय रहा है लेकिन इस बीच में ऐसी खबर आना बीजेपी के लिए एक बहुत बड़ा झटका है।

अमित शाह और मोदी के लिए योगी आदित्यनाथ जीत का एक बहुत बड़ा मंत्र रहे हैं हालांकि उनकी हिंदूवादी छवि की वजह से कई बार वो आलोचनाओं का शिकार भी हुए हैं लेकिन चुनाव के वक्त पर बीजेपी उन्हें एक बड़े मोहरे की तरह इस्तेमाल करती रही है। चुनाव प्रचार में लोगों को बांधने की योगी आदित्यनाथ ने महारथ हासिल की हुई है।

योगी आदित्यनाथ की शवयात्रा

दरअसल जिस शव यात्रा की हम बात कर रहे हैं वो एक विरोध प्रकट करने का तरीका था और इसे बलिया की फूलन सेना ने किया है। फूलन सेना ने योगी सरकार में बढ़ते अपराध और खराब कानून व्यवस्था के खिलाफ बलिया में शवयात्रा निकाली। इस शवयात्रा को रोकने के लिए पहुंची पुलिस के साथ भी फूलन सेना के कार्यकर्ताओं की जमकर झड़प हुई।

दरअसल बलिया रेलवे स्टेशन से फूलन सेना के सदयों ने सरकार विरोधी नारे लगाते हुए शहीद चौक की तरफ बढ़ना शुरू किया और सदर कोतवाल सहित पुलिस वालों ने घेर लिया। जब पुलिस वालों ने योगी की फोटो लगी अर्थी को कब्जे में लेना चाहा तो फूलन सेना की महिला कार्यकर्ताओ से पुलिस की झड़प भी हुई।

आपको बता दें कि फूलन सेना काफी लंबे वक्त से यूपी में कानून व्यवस्था और बढ़ते भू-माफिया के खिलाफ अपना आंदोलन चला रही है और इसी कड़ी में उसने ये कदम उठाया है। फूलन सेना का आरोप है कि योगी सरकार में लगातार बलात्कार की घटनाएं बढ़ रही है और सिस्टम में आम आदमी न्याय की आस में दर दर की ठोकरे खाने को मजबूर हो गया है।

More from NationalMore posts in National »
More from National PoliticsMore posts in National Politics »

Be First to Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.