Press "Enter" to skip to content

राम जन्मभूमि पर सुप्रीम कोर्ट सुनाएगा फैसला, ये हो सकता है कोर्ट का आदेश…

अयोध्या का मामला आज देश का वो मामला है जो हर इंसान के लिए बहुत जरूरी है। साफ शब्दों में कहा जाए तो हिंदू देवता राम की जन्म भूमी असोध्या और वहां पर बाबरी मस्जिद की उपस्थिती की वजह से ये पूरा विवाद हो रहा है। इस मामले में मुसलमानों का कहना है कि अयोध्या में बाबरी मस्जिद का निर्माण किया जाए वहीं हिदू मुसलमानों की इस बात के बिलकुल खिलाफ है। इस मामले को और भी ज्यादा भड़काने का काम कर रहे ओवैसी जैसे कुछ लोग जिन्हें सिर्फ तोड़ने की राजनीति करनी आती है।

आपको बता दें कि अयोध्या मामले को लेकर कोर्ट में मुस्लिम पक्ष की दलीलें पूरी हो गई हैं। इस मामले को संविधान पीठ के पास भेजना चाहिए या फिर नहीं भेजना है इसी बात पर मंगलवार को मुस्लिम पक्ष ने अपनी बात सुप्रीम कोर्ट में रखी। सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई के समय भी मुस्लिम पक्ष के लोगों ने बार-बार हिंदू पक्षकारों और संगठनों की तरफ से लगातार हो रही बयानबाजी पर अपना आक्रोश जाहिर किया।

Supreme Court on Ram Mandir Issue, Says Sort Out This Dispute Outside The Court- WikiLeaks4India Report

 

गौरतलब है कि सीजेआई दीपक मिश्रा की तीन सदस्यीय विशेष पीठ इस मामले की देखरेख कर रही है और इसपर सुनवाई कर रही है। इस मामले की सुनवाई के दौरान मुस्लिम पक्ष के वकील राजीव धवन ने अपनी बात कोर्ट के सामने रखते हुए कहा था कि ममाले पर हिंदू पक्ष के लोग अपने मन के मुताबिक बयान दे रहे हैं, जबकि हमारी तरफ से इस बात का हमेशा ख्याल रका जाता है कि मामले को लेकर कोई गलत बयान ना जाने पाए और हमने खुद को हमेशा से ही अनुशासित रखा है।

मुस्लिम पक्ष के वकील राजीव धवन ने अपनी बात रखते हुए सिर्फ इस बात पर ध्यान दिया कि मामले को संविधान पीठ के पास भेजना चाहिए। आपको बता दें कि अब कोर्ट में इस मामले को लेकर आज सुनवाई की जाएगी। जानकारी के मुताबिक बताया गया है कि आज कोर्ट में हिंदू पक्ष की तरफ से दलीलें पेश कर दी जाएंगी। हिंदू पक्ष की तरफ से सभी दलीलें सुनने के बाद ही इस बात का फैसला किया जाएगा कि मामले को संविधान पीठ के पास भेजना है या फिर नहीं।

क्या है अयोध्या विवाद

अयोध्या विवाद आज के समय में एक राजनीतिक, ऐतिहासिक और सामाजिक-धार्मिक विवाद बनता जा रहा है। इस विवाद का मूल मुद्दा हिंदू देवता राम की जन्मभूमि और बाबरी मस्जिद की स्थिति को लेकर है। विवाद इस बात को लेकर किया जा रहा है कि क्या हिंदू मंदिर को ध्वस्त करने के बाद वहां पर बाबरी मस्जिद का निर्माण किया गया था। इसी मामले को लेकर अभी भी बहस जारी है।

More from LegalMore posts in Legal »
More from NationalMore posts in National »

Be First to Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.