सुन लो समाज, हमेशा लड़की सही नहीं होती…

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में हिंदू और मुस्लिम दंपती के पासपोर्ट आवेदन पर आपत्ति जताने वाले सीनियर सुपरीटेंडेंट विकास मिश्रा अब भी अपने स्टैंड पर कायम हैं। उन्होंने अपने ऊपर लगे सभी आरोपों को खारिज कर दिया है।

vikas mishra pc

विकास मिश्रा ने अपने ऊपर लगे सभी आरोपों को खारिज कर दिया है। उन्होंने कहा है कि मोहम्मद अनस सिद्दीकी और उनकी पत्नी ने उन पर गलत आरोप लगाए हैं। विकास मिश्रा का कहना है कि उन्होंने तनवी सेठ के निकाहनामे में मुस्लिम और एप्लीकेशन में हिंदू होने पर सवाल उठाए थे। तनवी से उनके निकाहनामे में लिखे नाम शादिया अनस का ही प्रयोग करने के लिए कहा गया था। जिसके लिए उन्होंने मना किया था।

Vikas Mishra

For doing his duty honestly,Media labelled Vikas Mishra a bigot. Sushma Swaraj threw him under the bus. MEA Gave passport to a dubious person without any background check – a person who was playing the Muslim card, who fooled whole Media, politicians, and MEA officials to get a passport.She created fake propaganda, changed her religion etc. She even threatened that officer for doing his job properly..

Posted by TriNetra on Thursday, June 21, 2018

विकास मिश्रा ने आगे कहा कि हमें आवेदन को आगे बढ़ाने से इस बात की पूरी तस्दीक करनी पड़ती है कि कोई भी व्यक्ति पासपोर्ट के लिए अपना नाम तो नहीं बदल रहा है। उन्होंने कहा कि जब हमने तनवी का कहना है कि आप को पासपोर्ट आवेदन में अपना नाम बदलना होगा, तब वो हमारे ऊपर भड़क गई थी। मेरे ऊपर दबाव बनाने का प्रयास किया था और मैंने नियम के खिलाफ काम करने से मना कर दिया था। इसके बाद इसको हिंदू और मुस्लिम का रूप दिया गया था।

vikas mishra pc

हर पासपोर्ट आवेदन पत्र में सपोर्टिंग डाक्युमेंट लगाने का प्रावधान दिया गया है। हर क्लॉज को भरना होता है, किसी के चाहने या न चाहने पर हम कोई नियम तो नहीं बदल सकते हैं। इस प्रकरण में हमने निकाहनामे में मुस्लिम और एप्लीकेशन में हिंदू होने पर सवाल उठाया था।

vikas mishra pc

विकास मिश्रा ने साफ तौर पर कहा कि हम हर नोटिस का जवाब दे देंगे और पासपोर्ट सेवा केंद्र में तैनात सीनियर सुपरिटेंडेंट विकास मिश्रा का ट्रांसफर होने पर भी उन्होंने कड़ रुख पर कहा कि मैंने कोई गलत काम नही किया है। नियम के अनुसार फाइल अधिकारी को भेजी थी। इस दंपति ने शिकायत की थी कि पासपोर्ट ऑफिसर ने उनकी अर्जी इसलिए खारिज कर दी, क्योंकि वो अलग धर्म से थे। इनका कल ही अपाइंटमेंट था।

  • Show Comments (0)

Your email address will not be published. Required fields are marked *

comment *

  • name *

  • email *

  • website *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

You May Also Like

20 airforce planes will fly on agra express way

वायुसेना के 20 विमान आगरा एक्सप्रेस-वे पर उतरेंगे और उड़ान भरेंगे

यूपी के सबसे व्यस्त रहने वाले एक्सप्रेस-वे यानी की आगरा एक्सप्रेस-वे पर वायुसेना के ...

एक कवि, श्रेष्ठ राजनीतिज्ञ और सबको साथ लेकर अपनी छाप छोड़ने वाले युगपुरुष अटलजी

राष्ट्रीय स्वंयसेवक संघ के प्रचार से लेकर देश के प्रधानमंत्री का सफर तय करने ...

yogi adityanath shamefull statement on brd hospital kids death

योगी आदित्यनाथ का शर्मनाक बयान, कहा- ऐसा ना हो कि लोग बच्चों को भी सरकार के भरोसे ही छोड़ दें

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लखनऊ के एक कार्यक्रम में बहुत ही शर्मनाक बयान ...