कैसे हुई थी अंतरराष्ट्रीय योग दिवस की शुरुआत और क्यों 21 जून को ही चुनी गई तारीख

कैसे हुई थी अंतरराष्ट्रीय योग दिवस की शुरुआत

दुनियाभर में आज अंतराष्ट्रीय योग दिवस मनाया जा रहा है। इस बार योग का कार्यक्रम मुख्य रुप से देहरादून में पीएम मोदी की उपस्थिति में किया जा रहा है। योग शुरु से ही भारतीय संस्कृति का अभिन्न हिस्सा रहा है वहीं योग पिछले 5 हजार सालों से लोगों की जीवनशैली का हिस्सा रहा है। योग में न केवल आपको बीमारियों से दूर रखने की ताकत होती है बल्कि यह आपको तनाव को दूर रखता है आपके मन को शांत रखता है। यहां हम आपको योग से जुड़ी कुछ खास जानकारियों के बारे में बताने जा रहे हैं।

जानिए किस तरह दुनिया में हुई योग दिवस की शुरुआत

कहने को तो योगा भारतीय संस्कृति का काफी अहम हिस्सा रहा है वहीं आज गौर करें तो भारत के साथ साथ दुनियाभर में योग दिवस मनाया जा रहा है। यह जानना बहुत महत्वपूर्ण हैं कि विश्व योग दिवस की शुरुआत की पहल भारतीय पीएम नरेंद्र मोदी द्वारा की गई थी। मोदी ने संयुक्त राष्ट्र की महासभा में 27 सितंबर 2014 में दुनियाभर में एक साथ योग करने की बात कही थी। वहीं मोदी की इस बात के 3 महीने के अंदर ही इसका ऐलान कर दिया गया। संयुक्त राष्ट्र ने 11 दिसंबर 2014 को यह घोषणा कर दी कि 21 जून का दिन दुनियाभर में ‘योग दिवस’ के तौर में मनाया जाएगा।

आखिर 21 जून को ही क्यों चुना ‘अंतरराष्ट्रीय योग दिवस’ के लिए

ये सवाल मन में उठना जाहिर है कि आखिर 21 जून को ही योग दिवस के रूप में क्यों मनाया जाता है। इसके पीछे एक बड़ी वजह है दरअसल, इस दिन उत्तरी गोलार्द्ध का सबसे लंबा दिन होता है, जिसे कुछ लोग ग्रीष्म संक्रांति भी कहते हैं। भारतीय परंपरा के मुताबिक ग्रीष्म संक्रांति के बाद सूर्य दक्षिणायन हो जाता है। ऐसा माना जाता है कि सूर्य के दक्षिणायन का समय आध्यात्मिक सिद्धियों को हासिल करने के लिए काफी मददगार होता है इस वजह से ही 21 जून को ‘अंतरराष्ट्रीय योग दिवस’ के रूप में मनाया जाता हैं।

भारत के नाम हैं रिकॉर्ड

संयुक्त महासभा से मंजूरी मिलने के बाद 21 जून 2015 को दुनिया में पहला ‘अंतरराष्ट्रीय योग दिवस’ मनाया गया था। उस वक्त पीएम मोदी के नेतृत्व में करीब 35 हजार से भी ज्यादा लोगों  ने और 84 देशों के प्रतिनिधियों ने दिल्ली के राजपथ पर योग के 21 आसन एकसाथ किए थे। इस दौरान दो गिनीज रिकॉर्ड दर्ज किए गए थे। पहला रिकॉर्ड 35,985 लोगों के साथ योग करना और दूसरा रिकॉर्ड 84 देशों के लोगों द्वारा इस समारोह में हिस्सा लेना था।

  • Show Comments (0)

Your email address will not be published. Required fields are marked *

comment *

  • name *

  • email *

  • website *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

You May Also Like

Rbi Governor Urjit Patel Threat Mail Case Accused Arrested From Nagpur- Wikileaks4india Report

RBI गवर्नर उर्जित पटेल को धमकी देने वाला शख्स नागपुर से गिरफ्तार

रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया(RBI) के गवर्नर उर्जित पटेल(Urjit Patel) को जान से मारने की ...

I- DAY 4 JULY 1947 FOR INDIA WIKILEAKS4INDIA NEWS REPORT

4 जुलाई भारतीय इतिहास के लिए यादगार दिन, शुरु हुई थी आजादी की प्रक्रिया…

4 जुलाई 1947 का दिन भारतीय इतिहास में एक खास दिन है जिसे भूलाना ...

more soldiers died in modi government

एक सिर के बदले 10 सिर लाने वाली मोदी सरकार के राज में शहीद हुए ज्यादा सैनिक!

आतंकवाद के खिलाफ लड़ने को लेकर बड़ी-बड़ी बातें करने वाली केंद्र सरकार के तीन ...

asian submit brunei sultan come india

पीएम मोदी का ये मेहमान उनसे मिलने, खुद आया 5000km प्लेन उड़ाकर

इस बार देश में गणतंत्र दिवस के मौके पर पहली बार आसियान के 10 ...

abu-dhabi-prince-jaed

अबु धाबी के प्रिंस जायद के बारे में ये है सबसे बड़ा खुलासा

अबु धाबी के राजाओं की शान-ए-शौकत के बारे में तो आपने सुना ही होगा। ...