Press "Enter" to skip to content

मुस्लिम समाज को खुश करने के लिए मोहन भागवत ने राम मंदिर पर कह दी ये बड़ी बात…

Spread the love

अयोध्या में राम मंदिर का मामला काफी लंबे समय से चलता आ रहा है और देश की राजनीति का एक मुख्य केंद्र बना हुआ है। अयोध्या मंदिर-मस्जिद विवाद पर सुप्रीम कोर्ट ने सुनवाई 13 जुलाई तक टाल दी है और इस सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट ये फैसला करेगा कि मस्जिद में नमाज पढ़ना इस्लाम का अभिन्न हिस्सा है या फिर नहीं। लेकिन कोर्ट का फैसला आने से पहले ही राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रमुख मोहन भागवत ने रविवार को विवादित बयान देने की जगह पर एक हैरान कर देने वाला बयान दिया है।

क्या है मामला?

साल 1992 में विश्व हिंदू परिषद, शिव सेना और भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं ने मिलकर 6 दिसंबर को बाबरी मस्जिद को ध्वस्त कर दिया था। इस वजह से देश में हिंदू और मुसलमानों के बीच सांप्रदायिक दंगे देखने को मिले थे, जिसमें 2000 से कई ज्यादा लोग मारे गए थे।

मोहन भागवत का बयान 

आपको बता दें कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रमुख मोहन भागवत ने पालघर जिले के दहानू में विराट हिंदू सम्मेलन को संबोधित करते हुए रविवार को एक विवादित बयान न देकर हैरान करने वाला बयान दिया है। उन्होनें अपना बयान देते हुए कहा है कि राम मंदिर किसी भारतीय मुसलमान ने नहीं तोड़ा है। भारतीय नागरिक कभी ऐसा काम नहीं कर सकता। भारतीयों का मनोबल तोड़ने के लिए विदेशी ताकतों ने मंदिरों को तोड़ा है। उन्होंने यह भी कहा कि आज हम आजाद हैं और उसे एक बार फिर से बनाने का अधिकार रखते हैं, जिसे हमसे छीन लिया गया था।

mohan bhagvat statement on ram mandir

भागवत ने अपनी बात जारी रखते हुए कहा कि वो सिर्फ मंदिर नहीं थे बल्कि हमारी पहचान के प्रतीक थे। अगर अयोध्या में मंदिर फिर से नहीं बनाया गया तो भारत की संस्कृति की जड़ें कट जाएंगी। उन्होंने दावा किया कि इसमें कोई शक नहीं कि मंदिर वहीं बनाया जाएगा, जहां वह पहले था। इसके लिए किसी भी तरह की लड़ाई के लिए हम तैयार हैं।

आरएसएस प्रमुख ने विपक्षी पार्टियों पर भी निशाना साधा है और कहा है कि जिनकी दुकानें बंद हो गईं हैं (जो चुनाव में हार गए हैं), वो अब लोगों को जाति के मुद्दों पर लड़ने के लिए उकसाने का काम कर रहे हैं।

More from RegionalMore posts in Regional »

Be First to Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.