Press "Enter" to skip to content

अमित शाह ने कार्यकर्ताओं को दिया 2019 लोकसभा चुनाव में जीत का मंत्र

भारतीय जनता पार्टी आज के दिन सुबह से ही अपना 39वां स्थापना दिवस मना रही है और इस खास अवसर पर बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने मुंबई में करीब तीन लाख कार्यकर्ताओं को संबोधित किया। अपने भाषण के दौरान अमित शाह ने अपने सभी कार्यकर्ताओं को ‘मिशन 2019’ का मंत्र देने के साथ ही साथ विपक्षी दलों पर जमकर निशाना साधा। अमित शाह का कहना था कि देश में मोदी की बाढ़ आई है और इसी डर से चूहे, बिल्ली, सांप और नेवला सब एक साथ मिल कर चुनाव लड़ रहे हैं। बीजेपी अध्यक्ष की इस बात से साफ दिख रहा था कि उनका इशारा सपा-बसपा गठबंधन के साथ ही साथ जोड़-तोड़ में जुटी सभी अन्य राजनीतिक दलों की तरफ भी था।

अमित शाह ने आगे कहा था कि “भारत के लोकतंत्र के इतिहास में बीजेपी के कार्यकर्ताओं ने कई ज्यादा बलिदान दिया है। शाह ने अपने स्थापना दिवस के दिन दिए भाषण में पार्टी के कार्यकर्ताओं को ही पार्टी का असली मालिक बताया। 38 साल पहले अटल बिहारी वाजपेयी जी ने मुंबई में बीजेपी की स्थापना की थी, तब उन्होंने कहा था कि अंधेरा छटेगा, सूरज निकलेगा और कमल हर जगह खिलेगा और आज कमल पूरे देश में कमल खिला हुआ है।” बीजेपी अध्यक्ष का कहना था कि, “हमारी पार्टी की शुरूआत 10 सदस्यों से हुई थी और आज हमारे सदस्य 11 करोड़ से ज़्यादा हो गए हैं, कभी हमको हम दो-हमारे दो के ताने दिए जाते थे और आज हमारी पूर्ण बहुमत की सरकार है।”

शाह का आगे कहना था कि हमारी पार्टी 10 सदस्यों से शुरू हुई थी और आज 11 करोड़ सदस्य हैं। पहले हमारे सिर्फ 2 लोकसभा सदस्य थे लेकिन आज अपने दम पर ही हम और हमारे कार्यकर्ता बहुमत की सरकार चला रहे हैं। इसके साथ ही अपने भाषण के दौरान शाह ने राहुल गांधी पर भी निशाना साधा और कहा कि अभी भी राहुल जी, शरद पवार के साथ बैठते हैं। राहुल गांधी मोदी सरकार से साढ़े चार साल का हिसाब मांगते फिरते हैं लेकिन खुद की चार पीढ़ियों का हिसाब कबी नहीं देते। कांग्रेस की सरकार के दौरान हमारे देश के किसान फसल के उचित दाम मांगते-मांगते थक गए थे लेकिन उन्हें कभी भी उनका हक नहीं मिला और वहीं अगर बीजेपी की बात करे तो बीजेपी ने किसानों को डेढ़ गुना समर्थन मूल्य देने का वादा किया है।

शाह ने कहा कि राहुल गांधी हमारे बारे में झूठी बाते ही फैलाते हुए दिख रहे हैं। बीजेपी की सरका कभी भी आरक्षण खत्म नहीं करेगी और ना ही किसी और को आरक्षण खत्म करने देगी। विपक्ष ने संसद को नहीं चलने दिया, लेकिन हम संसद के अंदर और संसद के बाहर भी चर्चा करने के लिए हमेशा तैयार है। अमित शाह ने कहा कि ये भारतीय जनता पार्टी का स्वर्ण काल नहीं है, बीजेपी का स्वर्ण काल तब आएगा, जब पश्चिम बंगाल, ओडिशा और 2019 में उसकी सरकार होगी।

Be First to Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.