Press "Enter" to skip to content

पीएम मोदी यूरोप में करेंगे ऐसा काम, जो सिर्फ बराक ओबामा कर पाए

पीएम नरेंद्र मोदी का आज से एक और पांच दिवसीय दौरा शुरू होने वाला है। आज पांच दिन के लिए पीएम मोदी विदेश यात्रा पर रवाना होंगे। अपनी यात्रा के दौरान सबसे पहले मोदी स्वीडन की राजधानी स्टॉकहोम के लिए निकलेंगे और वहां जाकर पीएम स्टेफान लोफवेन से कुछ अहम मालों पर बात करेंगे। इसके साथ ही वहां से मोदी भारत नोर्डिक सम्मेलन में हिस्सा लेंगे। अपनी इस विदेश यात्रा के मामले में पीएण मोदी ने कहा था कि, ‘भारत और स्वीडन के बीच में दोस्ती का रिश्ता है। हमारी साझेदारी लोकतांत्रिक मूल्यों और खुले, समावेशी और नियमों की बुनियाद पर टिकी वैश्विक व्यवस्था के प्रति कटिबद्धता पर आधारित है। साथ ही स्वीडन हमारे विकास के पहलों में एक मूल्यवान साझेदारी निभाता है।’

मंगलवार को लंदन पहुंचेंगे मोदी

आपको बता दें कि राष्ट्रमंडल देशों के प्रमुखों की बैठक में शामिल होने से पहले पीएम मोदी ब्रिटिश के प्रधानमंत्री टेरीजा के साथ बैठक करेंगे। वह एक अकेले ऐसे नेता हैं, जिन्हें ब्रिटेन ने खुद द्विपक्षीय वार्ता के लिए न्योता दिया है। इतना ही नहीं महारानी एलिजाबेथ ने तीन राष्ट्राध्यक्षों को मिलने के लिए बुलाया है उनमें से एक नाम पीएम मोदी का भी है। स्वीडन की यात्रा खत्म करने के बाद पीएम मोदी चार दिन की यात्रा के लिए मंगलवार को लंदन पहुंच जाएंगे, जहां पर उनका स्वागत काफी धमाकेदार तरीके से होगा। प्रिंस चार्ल्स खुद ही उनका स्वागत करने के लिए पहुचेंगे।

सेंट्रल हाल से होगा ऐतिहासिक भाषण

इस दौरे के दौरान नरेंद्र मोदी बुधवार की शाम को भारत की बात सबके साथ कार्यक्रम में शामिल होंगे। इस कार्यक्रम का आयोजन लंदन के वेस्टमिंस्टर सेंट्रल हाल में किया गया है। इसका प्रसारण सजीव किया जाएगा। हालांकि व्यक्तिगत तौर पर इस कार्यक्रम में सिर्फ दो हजार लोग ही शामिल हो पाएंगे, लेकिन इसका प्रसारण उत्तरी ध्रुव से न्यूजीलैंड व सऊदी अरब से सेन फ्रांसिस्को तक किया जाएगा।

मोदी जी, बेटियों की रक्षा करो 

नेशनल इंडियन स्टूडेंट्स एंड एलुमनी यूनियन (एनआइएसयू) यूके ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को एक पत्र लिखा जिसने दिल को झकझोर कर रख दिया है। इस खत में जम्मू-कश्मीर, गुजरात और उत्तर प्रदेश में हुए रेप की घटनाओं पर क्षोभ जताया गया है और साथ ही पीएम सो अपील की गई है कि आरोपियों के खिलाफ कड़े से कड़ा कदम उठाकर दोषियों पर उच्च कार्रवाई कराई जाए।

Be First to Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.