BJP में शामिल होने वाले मुस्लिम परिवारों को मिल रही है सजा, मस्जिद में नहीं पढ़ने दी जा रही नमाज

by Taranjeet Sikka Posted on 0 comments
muslim families are not allowed for namaz in mosque

त्रिपुरा में विधानसभा चुनाव को लेकर राजनीतिक घमासान जारी है। इसी बीच राज्य के 25 मुस्लिम परिवारों को मस्जिद में नमाज पढ़ने से रोक दिया गया है। इन परिवारों का आरोप है कि बीजेपी को समर्थन दिए जाने के कारण इन लोगों को मस्जिद में नहीं जाने दिया जा रहा है जिसके चलते उन्हे अलग मस्जिद का निर्माण करना पड़ा है।

25 मुस्लिम परिवार बीजेपी में हुए शामिल

ये मामला दक्षिण त्रिपुरा के शांतिबाजार विधानसभा का है। इस इलाके में कुल 100 किसान परिवार रहते हैं। इनमें से 25 मुस्लिम परिवारों ने कुछ समय पहले बीजेपी के साथ जाने का निर्णय लिया था जिसके बाद उन्हे बीजेपी विरोधी मुस्लिम परिवारों के विरोध का सामना करना पड़ा है। गांव के निवासी बाबुल हुसैन ने बताया कि बीजेपी में शामिल होने के बाद उन्हे गांव की मस्जिद में नमाज नहीं पढ़ने दिया जा रहा है। उनसे कहा गया कि जब तक वो हिंदुवादी पार्टी का समर्थन करेंगे मस्जिद में नमाज नहीं पढ़ सकते है।

बनाई अस्थाई मस्जिद

25 परिवार के लोगों ने बांस और टीन शेड के सहारे से एक अस्थाई मस्जिद बनाई है। इसके लिए अलग इमाम भी नियुक्त किया गया है। आपको बता दें कि 18 फरवरी को त्रिपुरा में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं। जहां पर लेफ्ट दोबारा सत्ता में आने की कोशिश कर रही है। तो वहीं बीजेपी ने भी चुनाव को लेकर अपनी कमर कस ली है। पार्टी के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष अमित शाह भी इन दिनों त्रिपुरा के दौरे पर हैं जहां वो कई रैलियां और जनसभाएं कर रहे हैं।