Press "Enter" to skip to content

काम कर गई मोदी-शाह की नीति, कल बीजेपी के येदुरप्पा लेंगे कर्नाटक मुख्यमंत्री पद की शपथ…

Spread the love

कर्नाटक में बीजेपी को पहले सरकार बनाने का न्योता मिला है। राजभवन की तरफ से बीजेपी पर मुहर लग गई है। इस शपथ ग्रहण पर अमित शाह और नरेंद्र मोदी शामिल नहीं होंगे। सुबह 9:30 बजे ये समारोह होगा और इसके बाद येदुरप्पा को 5 दिन के अंदर बहुमत साबित करना होगा। कर्नाटक में विधानसभा चुनाव के नतीजे आने के बाद से ही सियासत ने जो तूल पकड़ा है वो अब 2 दिन के बाद जा कर थम गया है।

राज्यपाल ने इस टी-20 मुकाबले का नतीजा निकाल दिया है। 2 दिनों में सरकार किस की बनने वाली है ये साफ नहीं हो पा रहा था। दोनों ही पक्षों की तरफ से कहा जा रहा था कि वो सरकार बनाने वाले हैं। कांग्रेस-जेडीएस लगातार बहुमत का दावा कर रही थी तो वहीं बीजेपी का कहना है कि वो सबसे पार्टी है तो उन्हें सरकार बनाने का पहला मौका मिलना चाहिए। सभी की निगाहें राजभवन पर गढ़ी थी और राज्यपाल के फैसले पर सभी आंखें गढ़ा कर बैठे थे। जिस पर अब राज्यपाल ने नतीजा सुना दिया है और सरकार बनाने का पहला मौका बीजेपी को दिया गया है।

कांग्रेस और जेडीएस के नेताओं ने राज्यपाल वजुभाई वाला से मुलाकात की थी। और जेडीएस और कांग्रेस ने राज्यपाल को 117 विधायकों का समर्थन पत्र सौंप दिया था। जिसमें 78 कांग्रेस के और 37 जेडीएस के विधायक है इसके अलावा एक विधायक बसपा का और एक निर्दलीय विधायक भी शामिल है। आपको बता दें कि कर्नाटक में 222 सीटों पर मतदान हुआ था, इस हिसाब से बहुमत के लिए 112 विधायकों का समर्थन चाहिए। जबकि बीजेपी के पास सिर्फ 104 विधायक हैं।

जहां पर कांग्रेस ने जेडीएस को समर्थन देकर सरकार का दावा किया है तो वहीं बीजेपी के विधायक सुरेश कुमार ने ट्वीट कर कांग्रेस की उम्मीदों को झटका दे दिया है। बीजेपी के विधायक ने ट्वीट कर जानकारी दी है कि कल सुबह 9:30 बजे येदुरप्पा मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे। ये शपथ राजभवन में ली जाएगी। उन्होंने आम लोगों को भी इस मौके पर मौजूद रहने के लिए कहा है और बीजेपी सरकार बनाने को लेकर आश्वस्त नजर आ रही है। बीजेपी नेता जेपी नड्डा भी बेंगलुरु में पार्टी दफ्तर पहुंच गए हैं।

 

More from State PoliticsMore posts in State Politics »

Be First to Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.