बेटे की शहादत के बाद भी इस मां ने संभाला भारतीय सेना के लिए मोर्चा, जानिए कैसे?

15 अगस्त के मौके पर आपको भोपाल की एक ऐसी मां से मिलवाते हैं जिनके बेटे ने 24 साल पहले अपनी जान देश के नाम कर दी थी। 24 साल पहले 10 दिसंबर 1994 को आतंकियों से लड़ते हुए इस मां के बेटे ने शहादत हासिल की थी। बेटे के शहीद होने के बाद भी इस मां ने हार नहीं मानी बल्कि अपनी तरफ से भारतीय सेना के लिए राशि जमा कर रही हैं।

कश्मीर में शहीद हुए अपने बेटे की याद में भोपाल में रहने वाली उनकी मां मिट्टी के बर्तन और कलाकृतियों को बेचती है। उससे मिलने वाली राशि को वो सेना निधि में जमा करवा रही हैं। ये हैं भोपाल के शाहपुरा की रहने वालीं निर्मला शर्मा।

1994 में शहीद हो गया था बेटा

निर्मला के बेटे देवाशीष भारतीय सेना में कैप्टन थे और 10 दिसंबर 1994 में सेना के एक ऑपरेशन के दौरान वो शहीद हो गए थे। बेटे के शहीद होने के बाद निर्मला ने फैसला लिया कि चाहे उनका बेटा अब इस दुनिया मे नहीं है, लेकिन वो उसकी याद को फौज से जोड़े रखेंगी और इसलिए उन्होंने मिट्टी के बर्तन और कलाकृतियों को बनाने की जो कला सीखी थी उससे भारतीय सेना के झंडा निधि के लिए सौंप दी है।

निर्मला ने साल 2007 से बेटे की याद में मिट्टी के बर्तन बनाकर प्रदर्शनी लगानी शुरु की हैं और उससे जो भी कमाई होती है उसे पूरा का पूरा सेना की झंडा निधि में डोनेट कर दिया जाता है। निर्मला के मुताबिक बेटे के शहीद होने के तुरंत बाद ही वो ये काम शुरू करना चाहती थीं क्योंकि उन्होंने मिट्टी के बर्तन और कलाकृतियों को बनाना सीखा था लेकिन साल 1994 में बेटे के शहीद होने के बाद उनके मन में सेना के लिए कुछ करने का ख्याल आया और साल 2006 में पति के निधन के बाद साल 2007 से निर्मला ने ये काम शुरू किया।

फिर से हो सर्जिकल स्ट्राइक

साल 1994 में बेटा भले ही शहीद हो गया हो, लेकिन बेटे की शहादत के बाद भी निर्मला का हौसला नहीं टूटा और उन्होंने भारतीय सेना की तरफ से की गई सर्जिकल स्ट्राइक की न सिर्फ तारीफ की है बल्कि इच्छा जाहिर की है कि आगे भी इस तरह की सर्जिकल स्ट्राइक होती रहें ताकि देश की तरफ आंख उठाने वालों को करारा जवाब मिले।

  • Show Comments (0)

Your email address will not be published. Required fields are marked *

comment *

  • name *

  • email *

  • website *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

You May Also Like

अपने से 20 साल छोटे लड़के से पहले की शादी और फिर, रोज काटा करती थी शरीर का ये अंग…

आज कल शादी के नाम पर लड़का-लड़की दोनों को धोखे मिलने लगे हैं। आपको ...

15 अगस्त को भारत ही नहीं बल्कि ये 4 देश भी मनाते हैं आजादी का जश्न…

देश का सबसे बड़ा पर्व यानी की स्वतंत्रता दिवस आने में अब कुछ ही ...

जानिए क्यों कब्र से निकाल कर शव का हुआ पोस्टमार्टम?

वैसे तो हम आए दिन अजीबो- गरीब घटनाओं से रूबरू होते हैं, लेकिन आज ...

केरल में बाढ़ से मरने वालों की संख्या बड़ी, हालत बद से बदतर

केरल में पिछले 10 दिनों से लगातार हो रही बारिश की वजह से पिछले ...

2019 चुनाव से पहले बनना शुरु हो जाएगा राम मंदिर, बीजेपी ने कर ली है तैयारी…

राम जन्मभूमि न्यास के अध्यक्ष डॉ. रामविलास वेदांती ने एक बड़ा बयान दिया है ...

बाढ़ में फंसी गर्भवती महिला ने दिया स्वस्थ बच्ची को जन्म, देखें वीडियो…

केरल में आई भारी बाढ़ से सभी परेशान हैं, और साथ ही बारिश ने ...