अब घर से ‘बेदखल’ होंगे तेजस्वी यादव, पढ़ें पूरी खबर

News

सुप्रीम कोर्ट ने आरजेडी नेता तेजस्वी यादव की पटना हाई कोर्ट के आदेश को चुनौती देने वाली याचिका को खारिज कर दिया। तेजस्वी यादव जब बिहार के उप मुख्यमंत्री थे तब उन्हें ये बंगला मिला था। बता दें कि उप मुख्यमंत्री पद से हटने के बाद भी तेजस्वी सरकारी बंगले में रह रहे थे। सीजेआई रंजन गोगोई और न्यायमूर्ति दीपक गुप्ता एवं न्यायमूर्ति संजीव खन्ना की पीठ ने सरकार के फैसले को चुनौती देने के लिए आरजेडी नेता पर 50 हजार रुपए का जुर्माना भी लगाया है।

बता दें कि पटना हाईकोर्ट ने जनवरी तक तेजस्वी यादव को बंगला खाली करने का आदेश दिया था। उन्होंने ने बिहार सरकार के आदेश को कोर्ट में चुनौती दी थी। यह बंगला वर्तमान उप मुख्यमंत्री सुशील मोदी को आवंटित हुआ है। इससे पहले 5 दिसंबर को तेजस्वी यादव का बंगला खाली करवाने के लिए कई सरकारी अधिकारी उनके निवास स्थान पहुंचे थे। उस समय तेजस्वी नई दिल्ली में थे। बता दे कि ये मामला बिहार विधानसभा में विवाद का मुद्दा भी बन चुका है।

आपको बता दें कि बंगला पर विवाद की शुरुआत 2017 में हुई थी। जब सत्ता से बेदखल होने के बाद नीतीश सरकार ने तेजस्वी यादव को उप मुख्यमंत्री के तौर पर आवंटित बंगला 5, देशरत्न मार्ग खाली करने को कहा था और उसकी जगह उन्हें बतौर नेता प्रतिपक्ष 1, पोलो रोड बंगला आवंटित कर दिया था। वहीं, राज्य सरकार ने सुशील मोदी को बतौर उपमुख्यमंत्री 5, देशरत्न मार्ग बंगला आवंटित कर दिया, लेकिन इसके डेढ़ साल से ज्यादा का वक्त गुजर जाने के बाद भी तेजस्वी यादव ने अपना बंगला अब तक खाली नहीं किया।

Leave a Reply