अखिलेश को एयरपोर्ट पर प्रयागराज जाने से रोक कर सीएम योगी ने लिया 4 साल पुराना ये बदला

News

इलाहाबाद यूनिवर्सिटी की राजनीति एक बार फिर गरमा गई है। बता दें कि समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष और यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव मंगलवार को इलाहाबाद यूनिवर्सिटी के छात्रसंघ नेताओं के शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होने के लिए लखनऊ से प्रयागराज के लिए रवाना हुए थे। लेकिन जैसे ही अखिलेश फ्लाइट में बैठने के लिए आगे बढ़े तो यूपी प्रशासन ने उन्हें रोक लिया। जिसके बाद मामले ने तूल पकड़ लिया।

बता दें कि साल 2015 में यूपी की अखिलेश सरकार ने इसी तरह गोरखपुर के तत्कालीन बीजेपी सांसद योगी आदित्यनाथ को इलाहाबाद यूनिवर्सिटी में जाने से रोका था। इस वजह से योगी छात्रसंघ के कार्यक्रम में शामिल नहीं हो पाए थे। कहा जा रहा है कि अब योगी आदित्यनाथ यूपी के सीएम हैं तो उन्होंने अपना बदला लेते हुए अखिलेश को इलाहाबाद यूनिवर्सिटी में जाने से रोका है। जिससे अखिलेश का कार्यक्रम भी रद्द हो गया।

वहीं, अखिलेश को प्रयागराज जाने से रोके जाने पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ट्वीट कर कहा कि इलाहाबाद विश्वविद्यालय ने प्रशासन से अनुरोध किया था कि अखिलेश यादव अगर इलाहाबाद विश्वविद्यालय परिसर में आते हैं तो तमाम छात्र संगठनों के बीच वैमनस्य था वो बढ़ेगा और वहां पर हिंसक झड़प हो सकती है और कानून व्यवस्था के लिए खतरा पैदा हो सकता है। इसके साथ ही वहां कुंभ का बहुत बड़ा आयोजन है जहां लगभग रोज 25 -30 लाख लोग जा रहे है, वहां खतरा हो सकता है। अब तक कुम्भ का सफल आयोजन हो रहा है। इसी के चलते उन्हें रोका गया है।

आपको बता दें कि अखिलेश यादव को लखनऊ एयरपोर्ट पर रोके जाने के बाद से मामले ने काफी तूल पकड़ लिया है और समाजवादी कार्यकर्ताओं ने जमकर विरोध प्रदर्शन किया था। जिसके बाद यूपी प्रशासन ने प्रदर्शन कर रहे लोगों पर लाठीचार्ज भी किया और अखिलेश यादव ने योगी सरकार पर जमकर निशाना साधा। बता दें कि कांग्रेस समेत सभी विपक्षी दल अखिलेश के समर्थन पर उतर आये और बसपा सुप्रीमो मायावती ने अखिलेख यादव को रोके जाने की कड़ी आलोचना की।

Leave a Reply