अखिलेश को प्रयागराज जाने से रोका तो मामले ने पकड़ा तूल, पूरे मामले पर सीएम योगी आदित्यनाथ ने दी ये सफाई

News

उत्तर प्रदेश स्थित इलाहाबाद यूनिवर्सिटी के छात्रसंघ के वार्षिकोत्सव को लेकर कार्यक्रम का आयोजन किया गया था। जिसमें प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव बतौर मुख्य अतिथि के रुप में शिरकत करने वाले थे। लेकिन अखिलेश यादव को प्रयागराज नहीं जाने दिया और उन्हें लखनऊ एयरपोर्ट पर ही रोक लिया। मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने योगी सरकार पर गंभीर आरोप लगाया है।

अखिलेश यादव ने कहा कि एक छात्र नेता के शपथ ग्रहण कार्यक्रम से सरकार इतनी डर रही है कि मुझे लखनऊ हवाई अड्डे पर रोका जा रहा है। सरकार का मन साफ नहीं था इसीलिए हमें वहां जाने की अनुमति नहीं दी गई है। जबकि हमने अपने इस कार्यक्रम के बारे में 27 दिसंबर 2018 को ही बता दिया था।

बता दें कि अखिलेश को रोके जाने के बाद से समाजवादी पार्टी कार्यकर्ता इलाहाबाद यूनिवर्सिटी में प्रदर्शन कर रहे है। इस दौरान पुलिस ने वहां लाठीचार्ज किया, जिसमें बदायूं सांसद धर्मेंद्र यादव घायल हो गए हैं। धर्मेंद्र यादव सपा कार्यकर्ताओं के साथ प्रदर्शन कर रहे थे।

मामले को लेकर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने कहा है कि कानून-व्यवस्था में कोई परेशानी न हो इसके लिए अखिलेश को रोका गया है। इस घटना के बाद से योगी सरकार पर लगातार हमले हो रहे हैं। तो वहीं, अखिलेश को बसपा सुप्रीमो मायावती का भी समर्थन मिला है।

बसपा सुप्रीमो मायावती ने भी ट्वीट कर अखिलेश यादव को एयरपोर्ट पर रोके जाने का विरोध किया। मायावती ने लिखा कि राज्य और केंद्र सरकार सपा-बसपा गठबंधन से घबरा गई है। इसलिए अलोकतांत्रिक तरीके से कार्रवाई कर रही है।

मामले को तूल पकड़ता देख विधान परिषद और विधानसभा दोनों जगहों पर हंगामा शुरू हो गया था। जिसके बाद विधानसभा को कल तक के लिए स्थगित करना पड़ा। योगी सरकार के इस कदम की सपा-बसपा समेत कांग्रेस ने भी कड़ी आलोचना की है। विपक्ष ने मुद्दे को लेकर प्रदेश भर में प्रदर्शन करने की चेतावनी दी है।

Leave a Reply