लोकसभा चुनाव से पहले योगी सरकार का बड़ा दांव, साधु-संतों के आएंगे ‘अच्छे दिन’

Election, News

जैसे-जैसे लोकसभा चुनाव का समय नजदीक आ रहा है वैसे-वैसे सभी पार्टियां जनता को लुभाने में जुट गईं हैं। कोई भी पार्टी जनता को लुभाने में कोई कसर नहीं छोड़ना चाहती। हाल ही में तीन राज्यों के विधानसभा चुनाव में हार के बाद वोट बैंक बटोरने में बीजेपी भी कोई कमी छोड़ना नहीं चाहती है। बात करें योगी सरकार की तो जैसे-जैसे चुनाव का समय नजदीक आ रहा है वैसे-वैसे योगी सरकार भी नई-नई स्कीम निकाल रही है। हाल ही में योगी सरकार ने किसानों के कर्ज माफी, शराब टैक्स से गायों के भरण पोषण की बात कही थी और अब साधु-संतों को पेंशन देने की बात योगी सरकार ने कही है।

यूपी में योगी सरकार पेंशन योजनाओं में साधु-संतों को शामिल करने का कदम उठाने जा रही है। वृद्धावस्था पेंशन योजना के तहत प्रदेश के सभी जिलों में प्रदेश सरकार शिविर लगाकर साधु-संतों को प्रोत्साहित करके इस योजना के दायरे में शामिल करेगी और इसके लाभ के बारे में बताएगी। जानकारी के मुताबिक प्रदेश में अभी तक पेंशन योजना में साधु-संतों को इसलिए शामिल नहीं किया जाता था, क्योंकि उनके पास मूलभूत कागजात और दस्तावेज नहीं होते थे। लेकिन अब योगी सरकार ने हर जिले में शिविर लगाकर वृद्धावस्था पेंशन योजना से वंछित लोगों को शामिल करने का फैसला किया है। इसमें विशेष तौर पर साधु-संतों को शामिल किया गया है।

सूत्रों के मुताबिक अभी तक साधू-संतों को सरकार की तरफ से मदद न मिलने के कारण वो पेंशन योजनाओं के लिए आवेदन भी नहीं कर पाते थे। लेकिन अब सरकार ने साधु संतों को प्रोत्साहित करके इस योजना के दायरे में लाने का फैसला किया है।

 

Leave a Reply